बुलंदशहर : वन डिस्ट्रिक वन प्रोडक्ट की तर्ज पर यूपी में वन डिस्ट्रिक वन क्राइम: जयंत चौधरी

कृषि कानूनों के विरोध में महापंचायत को संबोधित करने बुलंदशहर पहुंचे RLD के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष जयंत चौधरी (Jayant Chaudhary) ने केंद्र और यूपी सरकार पर जमकर ज़ुबानी तीर चलाये, पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए जयंत बोले की बहुत हुआ दाढ़ी/ शाल का सिंगार, अबकी बार सत्ता से बाहर। इतना ही नही यूपी की कानून व्यवस्था पर सवाल उठाते हुए जयंत ने कहा कि सीएम जिस वन डिस्ट्रिक्ट वन प्रोडक्ट की बात करते हैं उसका तो पता नहीं, मगर हाँ हर जनपद में अपराध कितना बढ़ा है वो सब देख रहे हैं।

ये भी पढ़ें-आजमगढ़ : जालसाजों ने लाखों का लगाया चुना, न्याय पाने के लिये भटक रहा पीड़ित

वहीं भाजपा समर्थकों पर तंज कसते हुए जयंत (Jayant Chaudhary) बोले कि कुछ लोगों को बताओ कि ट्रेन का किराया दो गुना हो गया है तो वो बोलते हैं कि ठीक ही है ट्रेन में भीड़ कम होगी, पेट्रोल महंगा हो गया तो वो भी अच्छा है क्योंकि लोग साइकल चलाएंगे और पैदल चलेंगे, गैस महंगी होगी तो लोग कम इस्तेमाल करेंगे। ऐसे लोगों पर चुटकी लेते हुए जयंत बोले कि कुछ लोगों के पास हर बात का एक अलग ही तर्क है, और वो तर्क है कि मोदी जी ने किया है तो ठीक ही किया होगा, ऐसे लोगों का कुछ नहीं हो सकता।

किसानों में जोश भरते हुए जयंत बोले कि ऐसी कोई लाठी नहीं बनी जो किसानों को लग सके। उन्होंने कहा कि सरकार को कृषि कानून वापस लेने होंगे नहीं तो हम सरकार को ही सत्ता से बाहर कर देंगे। जयंत (Jayant Chaudhary)  ने कहा कि हमारी लड़ाई खेत खलियार की है जबकि उनकी अडानी-अंबानी की, और अब खुलकर नज़र आता है। जबकि जयंत ने कहा कि मंडी सिमिति का गठन भी उनके दादा चौधरी चरण सिंह के शाशनकाल में ही हुआ था। आपको बता दें कि विपक्षी दल कृषि कानूनों को मुद्दा बनाकर 2022 की ज़मीन तैयार करने में लगा है, जिसको लेकर RLD नेता भी पश्चिमी यूपी में लगातार महापंचायतों में पहुंचकर किसानों को संबोधित कर रहे हैं। जयंत चौधरी ने विभागवार सरकारी रिक्त पदों की याद दिलाते हुए सरकार से बेरोजगारों से किये गए रोजगार के वादे की भी याद दिलाई।

REPORT: ZISHAN ALI

 

Related Articles

Back to top button