बाँदा : बालू के टीले में दबकर तीन की मौत

यूपी के बाँदा में आज एक दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है। जहाँ बालू खदान में काम करने गए 7 मजदूर टीला धसने से दब गए। जिनमें से तीन लोगों की मौके पर ही मौत हो गई और अन्य दबे हुए मजदूरों (laborers) को निकालने का कार्य करते हुए सभी घायलों को अस्पताल भेज दिया गया है। जैसे ही घटना की जानकारी संबंधित थाने को लगी तो मौके पर पहुच कर कार्यवाही करते हुए पूरे मामले की जांच पड़ताल शुरू कर दी है। वहीं इस घटना के बाद से स्थानीय लोगों में खासा आक्रोश देखने को मिला है। जिसको लेकर ग्रामीणों के द्वारा सड़कों पर उतर कर जाम लगाने का काम किया गया है। अब देखना यह है कि बालू खदान में हुई इस बड़ी घटना के बाद क्या जिला प्रशासन खनन माफियाओं के खिलाफ कोई कार्रवाई करता है या फिर ऐसे ही आगे भी बालू खदान में काम करने वाले मजदूरों की मौत होती रहेगी।

ये भी पढ़ें-एटा : आर्थिक तंगी के चलते पिता ने चाक़ू से गोदकर की अपनी 3 वर्षीय पुत्री की हत्या

आपको बता दें पूरा मामला बांदा जनपद के पैलानी थाना क्षेत्र अंतर्गत का है जहां पर पैलानी थाना से महज 500 मीटर की दूरी पर संचालित बालू खदान में काम कर रहे हैं सात मजदूरों में से तीन लोगों की मौके पर ही मौत हो गई और बालू खदान के टीले में दबे अन्य चार मजदूरों (laborers) को रेस्क्यू चलाकर निकालने का काम करते हुए उपचार के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वहीं मृतक युवकों के परिजनों ने आक्रोशित होकर सभी शवों को सड़क पर रखकर जाम लगा दिया। जानकारी देते हुए परिजनों ने बताया कि यहां पर 7 लोग बालू भरने का काम कर रहे थे। तभी अचानक टीला धंस गया और सभी लोग उसमें दब गए। टीले में दबे हुए लोगों में से तीन लोगों की मौके पर ही मौत हो गई थी और बांकी को अस्पताल भेज दिया गया है। स्थानीय लोगों ने यह भी बताया कि खदान संचालक खनन नीति के विपरीत काम कर रहे थे । क्योकि खनन नीति के अनुसार 3 मीटर तक कि खुदाई करने का प्राविधान है लेकिन यहां पर लगभग 11 मीटर तक कि खुदाई की गई है जिसकी वजह से यह घटना हुई है। और रही बात हम लोगों के जाम लगने की तो हम लोगों ने इसलिए जाम लगाया है कि हम लोगों को उचित मुआवजा मिल सके और खदान संचालकों पर कार्यवाही हो सके।

वहीं पूरी जानकारी देते हुए अपर जिलाधिकारी संतोष बहादुर सिंह ने बताया कि आज पैलानी खदान में काम करते वक्त सात मजदूर (laborers) दब गए थे जिनमें से तीन लोगों की मौत हो गई है। जिसको लेकर ग्रामीणों ने आक्रोशित होकर जाम लगा दिया है जैसे ही हमे घटना की जानकारी लगी तो तत्काल मैं खनिज अधिकारी व अपर पुलिस अधीक्षक मौके पर आए और पूरी घटना की जानकारी ली । इन लोगों के द्वारा जो जाम लगाया गया है इनका कहना है कि हम लोगों को उचित मुआवजा दिया जाय और खदान के खिलाफ कार्यवाही की जाय। हम लोगों के द्वारा मृतक परिवारों को मुआवजा दिलाने को लेकर वार्ता की जा रही है। और रही बात कार्यवाही की तो परिजनों के द्वारा जो भी प्रार्थना पत्र दिया जाएगा उसी आधार पर कार्यवाही सुनिश्चित की जाएगी।

रिपोर्ट-इल्यास खान

Related Articles

Back to top button