राजधानी लखनऊ में मौत का स्टोरेज!

सूबे की राजधानी लखनऊ (Lucknow) में हाईटेक व्यवस्थाओं के दावे करने वाले जिला प्रशासन की नाक के नीचे मानकों को धता बताकर बेधड़क तरीक़े से चल रहे अवैध कोल्ड स्टोरेज (cold storage) में अचानक तेज धमाका से हड़कंप मच गया। जानकारी के मुताबिक अमोनिया गैस के रिसाव के बाद हुए धमाके की तीव्रता की जद में कोल्ड स्टोरेज (cold storage) भरभरा का जमीदोंज हो गया। इस हादसे में दो मजदूरों की जान चली गई। घटना की सूचना पर पहुंची पुलिस व दमकलकर्मियो ने रेस्क्यू कर लोगो को बाहर निकालकर नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया। आपको बता दे कि यह घटना इटौंजा थानाक्षेत्र के गोराही माल रोड स्थित बिंदेश्वरी कोल्ड स्टोरेज (cold storage) की है,भयावह हादसें ने मलबे में समेटकर दो मजदूरों की जिंदगी निगल डाली तो वही दो की हालत नाजुक बताई जा रही है।

ये भी पढ़े-दिल्ली का अपना शिक्षा बोर्ड स्थापित करने का मुख्यमंत्री ने किया ऐलान, बोले- अमीर-गरीब का फर्क भूलकर छात्रों को बनाएंगे अच्छा इंसान

जिला प्रशासन की लापरवाही के चलते ठेकेदार मानकों के विपरीत कोल्डस्टोरेज (cold storage) चलाकर बेख़ौफ़ हो चुके है। जिले के जिम्मेदारों के लापरवाह रवैये की बदौलत शनिवार रात इटौंजा थानाक्षेत्र में स्थित बिंदेश्वरी कोल्डस्टोरेज मौत का स्टोरेज बन गया। दरअसल अमोनिया गैस का रिसाव होने से कोल्डस्टोरेज (cold storage)  में तेज धमाका हो गया जिससे वह भरभराकर जमीदोंज हो गया। देखते ही देखते मंजर भयावह बन गया। हादसे में सीतापुर निवासी मिश्री लाल और धर्मेंद्र की जान चली गई वहीं दो अन्य मजदूरों की हालत गम्भीर बनी हुई है। हादसें के वक़्त कोल्डस्टोरेज में करीब दो दर्जन से ज्यादा मजदूर काम कर रहे थे।

जिन्हें पुलिस और फायरब्रिगेड कर्मियों की मदद से रेस्क्यू कर सकुशल बाहर निकाला गया। लापरवाही से चल रहे कोल्डस्टोरेज (cold storage) में अमोनिया गैस के रिसाव से ब्लास्ट हो गया और देखते ही देखते भीषण हादसा घटित हो गया। हादसे में जिम्मेदारों को बचाने के लिए आनन फानन में एफआईआर लिखी जा रही है। उधर हादसे की सूचना मिलते ही क्षेत्रीय विधायक अविनाश त्रिवेदी , एसडीएम बीकेटी नवीन चंद्र सहित जिले के आलाधिकारी मौके पर आ गए । आपातकालीन स्थिति को देखते हुए तत्काल मदद हेतु एम्बुलेंस को तैनात कर दिया गया। मेडिकल टीम का नेतृत्व जिले के सीएमओ डॉ संजय भटनागर कर रहे है।

Report- Rashid

Related Articles

Back to top button