आजमगढ़ : युवक की हत्या कर गेहूं के खेत में फेंका गया शव, गांव में मचा हड़कंप

मुबारकपुर (Mubarakpur) थाना क्षेत्र के शाहगढ़ मुबारकपुर मार्ग पर नीबी गांव के समीप युवक की खेत में दौड़ा कर हत्या कर दी गई। इसी थाना के बम्हौर (लक्षीनपुरा) गांव निवासी अंगद यादव (32) पुत्र कपिलदेव यादव सिधारी थाना क्षेत्र एक देशी शराब की दुकान पर सेल्समैन के रूप में कर रहे थे। उक्त दुकान बैठौली गांव निवासी रामबचन यादव की है। सोमवार की रात लगभग 10 बजे अंगद यादव दुकान बंद कर सिधारी से बाइक पर सवार होकर घर के लिए निकला था।

ये भी पढ़ें- एटा : बच्चे को पीट रहा था पिता, बचाने गए युवक को मारी गोली

आशंका है कि शाहगढ़- मुबारकपुर (Mubarakpur ) मार्ग पर पहुंचा तभी हमलावरों ने पीछा कर लिया। सड़क से 50 मीटर दूर गेहूं के खेत में ले जाकर हमलावरों ने पहले गमछा से गला घोट कर मारने का प्रयास किया, बाद में गोली मारकर हत्या कर फरार हो गए। अंगद की बाइक मुख्य मार्ग पर ही गिरी पड़ी रही।मंगलवार की सुबह गेहूं के खेत में रक्त रंजित शव मिलने से क्षेत्र में सनसनी फैल गई। मौके पर खून लगा हेलमेट भी मिला। मुबारकपुर (Mubarakpur) थानाध्यक्ष अखिलेश मिश्र मौके पर पहुंचकर घटना की जांच पड़ताल कर शव को कब्जे में ले लिया और पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेज दिया। घटना की सूचना के बाद हड़कंप मच गया और भारी फोर्स मौके पर पहुंच गई। सपा से जुड़े वरिष्ठ नेता भी मौके पर व थाने पर पहुंच गए। अंगद यादव के पिता कपिलदेव यादव को हत्या के मुकदमे में कोर्ट से आजीवन कारावास की सजा हुई है। वह लगभग 3-4 वर्ष पूर्व जमानत पर छूटकर बाहर आए थे ।अंगद का चचेरे भाई गांव के प्रधानी चुनाव लड़ रहा। अंगद की हत्या क्यों की गई इस संबंध में पुलिस अभी जांच पड़ताल कर रही है। अंगद तीन भाई एक बहन में सबसे छोटा था। उसकी अभी शादी नहीं हुई थी।

रिपोर्ट:- अमन गुप्ता

Related Articles

Back to top button