BSP के शासनकाल में बने कांशीराम आवास की बिजली काटी, करोड़ का बिल बकाया

उत्तर प्रदेश के गाजीपुर में बसपा (BSP) के शासनकाल में बनाए गए कांशीराम आवास कॉलोनी की बिजली काट दी गई है. कॉलोनी के लोग पिछले तीन दिनों से लालटेन और लैंप से काम चला रहे हैं. दरअसल, कॉलोनी में रहने वाले परिवारों पर बिजली विभाग का करोड़ों रुपये बकाया है. जिसके चलते बिजली विभाग ने कांशीराम आवास कॉलोनी की बिजली काट दी.

बता दें कि इस कांशीराम कॉलोनी की एक कॉलोनी में 600 परिवार और दूसरी कॉलोनी में 200 परिवार रहते हैं. बसपा (BSP ) ने इन कॉलोनियों का निर्माण अपने शासनकाल 2010 में करवाया था . उस समय कॉलोनी में रहने वाले लोगों को  सिर्फ 10 में बिजली कनेक्शन दिया गया था. लोगों से कहा गया था कि मात्र 100 रुपये प्रतिमाह में बिजली उपलब्ध कराई जाएगी. इसी बात से आश्वस्त सभी लोग बिजली का उपभोग करते रहे. वहीं बिजली विभाग ने भी कभी बिल वसूली की नहीं सोची , हालांकि कुछ दिन पहले ही कॉलोनी की बिजली काट दी गई है. बिजली विभाग इस पर बताया कि सभी लोगों पर बिजली विभाग का बकाया है. यहां लोगों को सिर्फ पानी की सप्लाई का बिल दिया जाता है.

ये भी पढ़ें- बलिया : किन्नर माधुरी पांडे ने महाशिवरात्रि के पर्व पर गरीबों में बांटे कपड़े-कंबल

एसडीओ ने बताया इन कॉलोनियों पर तीन करोड़ 15 लाख बिजली बिल बकाया है

बता दें कि बिजली अधिकारी के एसडीओ ने बताया कि इन दोनों कॉलोनियों में रहने वाले लोगों पर तीन करोड़ 15 लाख बिजली बिल बकाया है. उन्होंने आगे बताया कि बिजली बिल का यह बकाया  2010 से चला आ रहा है. ऐसा भी नहीं कि पहली बार बिजली काटी गई है. इससे पहले भी बिजली काटी गई है. तब कॉलोनी में रहने वाले लोगों ने जिला प्रशासन के कार्यालय पर धरना प्रदर्शन दबाव बनाया बिजली विभाग को में बिजली बहाल करनी पड़ी.

लेकिन इस बार एकमुश्त समाधान योजना भी चल रही है, जिसमें कैंप भी लगाया गया था ताकि लोग इस योजना का लाभ उठाकर सरचार्ज माफी का लाभ उठा सकें, लेकिन सिर्फ एक व्यक्ति को छोड़कर किसी ने रजिस्ट्रेशन नहीं कराया. ऐसे में कॉलोनी में रहने वाले लोगों जबतक बिजली का बिल जमा नहीं करेंगे तबतक इनकी बिजली बहाल नहीं की जाएगी.

 

Related Articles

Back to top button