पश्चिम बंगाल: BJP उम्मीदवार शुवेंदु अधिकारी ने नंदीग्राम से भरा पर्चा, TMC प्रमुख Mamata Banerjee से होगा सीधा मुकाबला

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव (West Bengal Assembly Elections) को लेकर सभी राजनीतिक पार्टियां तैयारियों में जुटी हैं। तृणमूल कांग्रेस (TMC) की प्रमुख और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) के बेहद करीबी रहे शुवेंदु अधिकारी (Shuvendu Adhikari) अब उनके मुकाबले में उतर रहे हैं। एक ही सीट पर टीएमसी की सुप्रीमो ममता बनर्जी और शुवेंदु अधिकारी की आमने-सामने की टक्कर है। बता दें कि 10 मार्च को इस सीट से ममता बनर्जी ने नामांकन दाखिल किया था।

बता दें कि भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवार शुवेंदु अधिकारी ने आज (शुक्रवार) पश्चिम बंगाल की नंदीग्राम विधानसभा से नामांकन दाखिल कर दिया है। इस मौके पर केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान भी नजर आए। इसके अलावा शुवेंदु अधिकारी (Shuvendu Adhikari) के समर्थन में बाबुल सुप्रियो और स्मृति इरानी भी पहुंचीं।

नंदीग्राम विधानसभा से अपना नामांकन दाखिल करने से पहले शुवेंदु अधिकारी (Shuvendu Adhikari) भगवान की शरण में आए। उन्होंने कहा कि चुनावी जंग में भगवान मेरे साथ हैं। अपने घर से सुबह पूजा कर मंदिरों में दर्शन के लिए निकले। नामांकन से पहले शुवेंदु ने हल्दिया में केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान और केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के साथ रोड शो किया।

नामांकन दाखिल करने से पहले शुवेंदु (Shuvendu Adhikari) ने कहा कि ‘मुझे पूरा विश्वास है कि जनता इस बार बीजेपी का साथ देगी और बंगाल में असली परिवर्तन के लिए बीजेपी को ही लाएगी। प्रतियोगिता का कोई सवाल ही नहीं है। बीजेपी ने 2019 में लोकसभा की 18 सीटें जीतीं। इस बार भारी अंतर से मजबूत सरकार बनाएंगे।’

ये भी पढ़ें- बलिया : किन्नर माधुरी पांडे ने महाशिवरात्रि के पर्व पर गरीबों में बांटे कपड़े-कंबल

इस दौरान केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने ममता बनर्जी पर जमकर हमला बोला, उन्होंने कहा, ‘आने वाली एक तारीख को बंगाल में कट मनी के खिलाफ निर्णय होगा। नंदीग्राम में दीदी (ममता) ने कहा कि मैं यहां की लाठी खाई हूं। दीदी मैं 2006-2007 में भी नंदीग्राम आया था। आप किसके कंधे पर बैठी थीं? लाठी पहले कौन खाया? उन्होंने कहा कि पहले लाठी खाने वाला शुवेंदु अधिकारी था।’

नंदीग्राम से नामांकन दाखिल करने के बाद भाजपा नेता शुवेंदु अधिकारी (Shuvendu Adhikari) ने ममता बनर्जी को नंदीग्राम में बाहरी बताया। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि राज्य में जिन लोगों के साथ चिटफंड कंपनियों ने धोखा किया है, भाजपा की सरकार बनने के बाद उन्हें उनके पैसे लौटाए जाएंगे।

शुवेंदु (Shuvendu Adhikari) ने ममता पर चुनाव से पहले धर्म के आधार पर लोगों को बांटने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि टीएमसी प्रमुख ने मंगलवार को चंडीपाठ ‘गलत तरीके से’ किया। उन्होंने आरोप लगाया कि टीएमसी की सरकार के कारण चिटफंड घोटाला हुआ और उसके नेताओं ने ‘जनता का पैसा’ लूटा।

शुवेंदु अधिकारी (Shuvendu Adhikari) ने ममता बनर्जी पर हमला बोलते हुए कहा कि दीदी नंदीग्राम में बाहरी हैं और यहां पर मतदान भी नहीं करतीं। मैं न केवल भूमिपुत्र हूं, बल्कि इस इलाके का नियमित मतदाता भी हूं। मैं वर्षों से इस इलाके के लोगों के साथ हूं, जबकि बनर्जी केवल चुनाव के दौरान यहां आती हैं।

आपको बता दें कि नंदीग्राम विधानसभा सीट पर एक अप्रैल को दूसरे चरण में वोटिंग होगी। यहां मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और भाजपा के प्रत्याशी शुवेंदु अधिकारी की आमने-सामने टक्कर होगी।

Related Articles

Back to top button