झांसी : वेतन नहीं तो काम नहीं, डोर टू डोर कचरा लेने वालों ने किया प्रदर्शन

दो महीने से वेतन न मिलने के कारण आर्थिक स्थिति से जूझ रहे नगर निगम झाँसी के डोर टू डोर कचरा इकट्ठा करने वाले कर्मचारी आज तंग आकर धरने पर बैठ गए। उनकी मांग है कि वेतन दो। यदि वेतन नही मिला तो वे काम नही करेंगे।

ये भी पढ़ें-पश्चिम बंगाल: BJP उम्मीदवार शुवेंदु अधिकारी ने नंदीग्राम से भरा पर्चा, TMC प्रमुख Mamata Banerjee से होगा सीधा मुकाबला

डोर टू डोर कचरा एकत्र करने वाले इन कर्मचारियों ने आरोप लगाया कि जनवरी और फरवरी माह का उन्हें वेतन नहीं मिला। इससे वे परेशान हो उठे हैं। घर में भी आर्थिक समस्या पैदा हो गई है। वहीं उनका ठेकेदार कहता है कि फिलहाल नगर निगम ने उसे पेमेंट नहीं किया। अब ये बेचारे कहां जाएं ? न तो उन्हें अधिकारी ही सुन रहे है और न ही ठेकेदार भुगतान कर रहा है। ऐसे में वे सिवाय प्रदर्शन के और कुछ नहीं कर सकते। आज सभी सफाई कर्मचारी एकत्र होकर नगर निगम परिसर पहुंचे और वहां उन्होंने अपनी गाड़ियां खड़ी कर दी इन कर्मचारियों का कहना था कि उनके पास न तो डीजल आने के लिए पैसे हैं न ही घर चलाने के लिए।

उनकी इस समस्या से अधिकारियों को शायद कोई लेना देना नहीं है । काफी समय तक प्रदर्शन करने के बाद भी कोई भी जिम्मेदार अधिकारी उनसे बातचीत करने नहीं आया। फिलहाल उनका प्रदर्शन जारी है।

रिपोर्ट- मदन यादव

Related Articles

Back to top button