अलीगढ़ : मुकदमें बाज़ी को सेटल कराने के लिए एक महिला को थाने भेजकर कराया दुराचार का मुकदमा पंजीकृत

जिसके बाद पुलिस ने मुकदमा (case) पंजीकृत कर मामले में आगे की कार्यवाही शुरू की, जिसके बाद ये जानकारी निकलकर सामने आई कि महिला ने पैसे व अन्य किसी लोभ व लालच में झूठा मुक़द्दमा दुराचार का लिखवाया है। दो पक्षों के बीच विवाद पहले से चल रहा है एक पक्ष के विरुद्ध मुकदमें  लिखे हुए थे तभी उसने दूसरे पक्ष को फंसाने के लिए ये जाल बुना। पुलिस ने आज इस मामले में दो आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

खुलासे पर जानकारी देते हुए अपर पुलिस अधीक्षक ने बताया कि मडराक थाने पर कल एक महिला पहुँची थी जिसने ये आरोप लगाया था कि उसके साथ बलात्कार हुआ है। जिसके बाद पुलिस ने मामले में मुकदमा (case) पंजीकृत कर आगे की कार्यवाही शुरू की। विवेचना शुरू करने के उपरांत पुलिस ने ये पाया कि ये मुक़द्दमा साज़िशन लिखवाया गया है।

 

 

उक्त महिला को पैसे का लोभ लालच देकर इस मुक़द्दमे (case) को पंजीकृत कराया गया है। दो पक्षों के बीच विवाद चल रहा था। इसी बीच एक पक्ष द्वारा लिखवाए गए मुकदमें में दो लोग जेल चले गए थे। उसी को साधने व सेटल करने के लिए एक पक्ष ने महिला को हायर किया और पैसे का लालच देकर दूसरे पक्ष के विरुद्ध दुराचार का मुकदमा पंजीकृत करा दिया। पुलिस ने विवेचना करते हुए साक्ष्य के आधार पर दुराचार का मुकदमा ख़त्म कर दिया है।

ये भी पढ़ें -कौशांबी- हैवान पिता ने दो माह की मासूम बच्ची के साथ की रूह कंपा देने वाली हरकत

जिन दो लोगों ने साज़िशन मुकदमा (case) लिखवाया है उनको गिरफ्तार कर जेल भेजा जा रहा है। दूसरे पक्ष को धमकाने व पैसा मांगने का एक और मुकदमा इन पकड़े गए लोगों के विरुद्ध दर्ज़ किया गया है।

REPORT- ख़ालिक़ अंसारी

Related Articles

Back to top button