Farmers Protest: नंदीग्राम महापंचायत में किसान नेताओं की बड़ी अपील,कहा- बीजेपी…

नए कृषि कानूनों के विरोध में किसान (Farmers) दिल्ली की सीमाओं पर पिछले 107 दिनों से आंदोलनरत हैं. किसान संगठनों ने अब अपने आंदोलन को और तेज करते हुए पश्चिम बंगाल पहुंच गए हैं . बीते शनिवार संयुक्त किसान मोर्चो ने कोलकाता और नंदीग्राम में किसानों की महापंचायत की .

बता दें कि पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव के सियासी घमासान के बीच किसान संगठन की भी एंट्री हो गई है. नंदीग्राम में जहां पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और भाजपा के नेता शुभेंदु अधिकारी के बीच सीधी सियासी लड़ाई है . संयुक्त किसान मोर्चो बीते शनिवार को पश्चिम बंगाल में दो महापंचायते की. महापंचायत में किसान (Farmers) नेताओं ने केंद्र सरकार को आड़े हाथों लिया.

ये भी पढ़ें -कौशांबी- हैवान पिता ने दो माह की मासूम बच्ची के साथ की रूह कंपा देने वाली हरकत

आपको बता दें कि क्रांति की जमीन नंदीग्राम में किसान नेता महापंचायत में नई क्रांति के बीज बो रहे थे. किसान नेताओं का संदेश सीधा था कि, वोट चाहे जिसको भी दो लेकिन हराने वाली पार्टी बीजेपी हो.

बंगाल की सियासी लड़ाई में सबसे बड़े मार्चे पर किसान संगठन उतर आये हैं . नंदीग्राम महापंचायत में किसान (Farmers) नेताओं ने कृषि कानूनों का मुद्दा उठाया. किसान नेताओं ने कि सरकार उद्योगपतियों के हित में कानूनों बनाये हैं. किसान नेताओं ने महंगाई , पेट्रोल डीजल की कीमतों में लगातार बढ़ोतरी को लेकर सरकार को घेरा, पश्चिम बंगाल के किसानों के न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) पर सरकार को घेरा.

किसान एकता मोर्चा ने ट्वीट कर लिखा-

किसान एकता मोर्चा ने ट्वीट कर लिखा कि किसान ठठुरती ठड़ में दिल्ली के बॉर्डर पर ड़टे रहे, और आंदोलन को जारी रखा अब किसानों को चिलचिलाती गर्मी से बचने का समय है, किसानों (Farmers) ने सड़को के किनारे पक्के घर बना लिए हैं, जबतक सरकार तीनो कृषि कानूनों की वापसी नहीं करेगी तबतक किसान दिल्ली की सीमाओं पर अपनी लड़ाई जारी रखेगें.

किसान नेताओं ने बेरोजगारी बोले

किसान (Farmers) नेताओं ने कहा कि बेरोजगारी आज के दिन कहां पहुंच गई है. किसान नेताओं ने कहा कि सरकार प्रचार ज्यादा करती है,काम कम करती है. संयुक्त किसान मार्चो के कई नेता पश्चिम बंगाल और नंदीग्राम पहुंचे. जिसमें भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत, योगेंद्र यादव समेत कई नेता महापंचायचत में मौजुद रहे.

 

Related Articles

Back to top button