Farmers Protest: दूध के दाम दोगुने करने का फैसला लेने के बाद बोले किसान नेता- अगर सरकार अब भी न मानी तो आने वाले दिनों में हम…

केंद्र सरकार के नए कृषि कानूनों के विरोध में किसानों (Farmers) का आंदोलन लगभग तीन महीने से लगातार जारी है। दिल्ली की सीमाओं पर किसान प्रदर्शन कर रहे हैं तो वहीं, किसानों की महापंचायतें भी लगातार जारी हैं। सरकार कृषि कानूनों को लेकर मान नहीं रही है तो किसानों ने विरोध का दायरा बढ़ाना शुरू कर दिया है, जिससे आम जनता को परेशानियों का सामना करना पड़ेगा।

अब कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों (Farmers) के आंदोलन को और तेज करने के लिए भारतीय किसान यूनियन (BKU) ने बड़ा ऐलान किया है। संयुक्त मोर्चा के पदाधिकारियों ने दूध के दाम बढ़ाने की बात कही है। भारतीय किसान यूनियन के जिला प्रधान मलकीत सिंह के मुताबिक, एक मार्च से किसान दूध के दामों में बढ़ोतरी करने जा रहे हैं, जिसके बाद 50 रुपये लीटर बिकने वाला दूध अब दोगुनी कीमत पर बेचा जाएगा, यानी 100 रुपये लीटर दूध बेचा जाएगा।

उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने डीजल के दाम बढ़ाकर किसानों (Farmers) पर चारों तरफ से घेरने की कोशिश की है, लेकिन संयुक्त किसान मोर्चा ने तोड़ निकालते हुए दूध के दाम दोगुने करने का फैसला लिया है। अगर सरकार अब भी न मानी तो आने वाले दिनों में हम सब्जियों के दामों में भी वृद्धि करेंगे।

ये भी पढ़ें-बरेली पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी ,कपड़ा व्यापारी निकला बाइक चोर गिरोह का मास्टरमाइंड

दूध के दामों को दोगुना करने को लेकर मलकीत सिंह ने कहा कि अगर जनता 100 रुपये लीटर पेट्रोल खरीद सकती है तो फिर 100 रुपये दूध क्यों नहीं ले सकती। अब तक किसान (Farmers) एक लीटर दूध को नो प्राफिट- नो लॉस पर बेचता आया है।

उन्होंने कहा कि यह तो अभी शुरुआत होगी, अगर सरकार फिर भी कृषि कानूनों को वापस नहीं लेती है तो आने वाले दिनों में सब्जियों के दाम दोगुने किए जाएंगे।

 

Related Articles

Back to top button