IPS Amitabh Thakur: उत्तर प्रदेश के चर्चित आईपीएस अफसर अमिताभ ठाकुर को सरकार ने भेजा घर

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के चर्चित आईपीएस अमिताभ ठाकुर (IPS Amitabh Thakur) को गृह मंत्रालय (Home Ministry) ने समय से पूर्व ही अनिवार्य रूप से सेवानिवृत्त कर दिया है। इस संबंध में गृह मंत्रालय की ओर से आदेश भी जारी कर दिया गया है।

आदेश में लिखा गया है कि अमिताभ ठाकुर (Amitabh Thakur) को लोकहित में सेवा में बनाए रखे जाने के उपयुक्त न पाते हुए लोकहित में तत्कालिक प्रभाव से सेवा पूर्ण होने से पूर्व सेवानिवृत्त किये जाने का निर्णय लिया गया है। इसकी जानकारी आईपीएस अमिताभ ठाकुर ने खुद ट्वीट कर दी।

 

आदेश पर अमिताभ ठाकुर ने दी अपनी प्रतिक्रिया

गृह मंत्रालय की ओर से जारी आदेश पर आईपीएस अमिताभ ठाकुर (Amitabh Thakur) ने अपनी प्रतिक्रिया भी दी है। उन्होंने ट्वीट में लिखा है कि ‘मुझे अभी-अभी वीआरएस (लोकहित में सेवानिवृति) आदेश प्राप्त हुआ। सरकार को अब मेरी सेवाएं नहीं चाहिए। जय हिन्द !’

 

गृह मंत्रालय की स्क्रीनिंग में आउट हुए UP के तीन IPS

आपको बता दें कि गृह मंत्रालय की स्क्रीनिंग में UP के तीन IPS अफसर आउट हुए हैं। तीनों को सरकारी सेवा के लिए अनुपयुक्त पाया गया है, इस वजह से इन अफसरों को अनिवार्य सेवनिवृत्ति दी गई है। इन तीनों आईपीएस अफसरों पर गम्भीर अनियमित्ता के आरोप थे।

इन आईपीएस अफसरों का किया गया सेवनिवृत्त 

1 – अमिताभ ठाकुर (Amitabh Thakur) ( आईजी रूल्स एवं मैनुअल) तमाम मामलों में जाँचें चल रहीं थी।

2- राजेश कृष्ण ( सेना नायक 10 बटालियन बाराबंकी) आज़मगढ़ में पुलिस भर्ती में घोटाले का आरोप।

3- राकेश शंकर ( डीआईजी स्थापना) देवरिया शेल्टर होम प्रकरण में संदिग्ध भूमिका के आरोप थे।

यह भी पढ़ें- UP: 30 मार्च तक पुलिस अफसरों व कर्मचारियों की छुट्टियां रद्द, DGP ने होली पर कड़ी सुरक्षा-व्यवस्था के दिये निर्देश

Related Articles

Back to top button