वो शख्स, जिसने किचन में चूल्हे पर चढ़ा दिये 20 लाख रुपये…

देश में भ्रष्ट अधिकारियों और भ्रष्टाचार को बढ़ावा देने वालों पर सरकार (Government) लगातार नकेल कस रही है। आए दिन भ्रष्ट अधिकारियों के पकड़े जाने का सिलसिला जारी है, जो दिन-प्रतिदिन तेज होता जा रहा है। फिर भी भ्रष्टाचार के मामले थमने का नाम नहीं ले रहे हैं।

देश में भ्रष्ट अधिकारियों और भ्रष्टाचार को बढ़ावा देने वालों पर सरकार (Government) लगातार नकेल कस रही है। आए दिन भ्रष्ट अधिकारियों के पकड़े जाने का सिलसिला जारी है, जो दिन-प्रतिदिन तेज होता जा रहा है। फिर भी भ्रष्टाचार के मामले थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। राजस्थान से एक ऐसा मामला सामने आया है, जिसके बारे में जानकर आप हैरान रह जाएंगे और सोच में पड़ जाएंगे। दरअसल, मामला राजस्थान के सिरोही जिले के पिंडो बारात तहसील का है, जहां के एक भ्रष्ट तहसीलदार (Tehsildar) का अजब-गजब खेल सामने आया है।

यह भी पढ़ें- श्रीनगर: CRPF की पेट्रोलिंग पार्टी पर एक बार फिर हुआ आतंकी हमला, एक जवान शहीद-तीन घायल

बताया गया कि पिंडो के भ्रष्ट तहसीलदार के घर पर एंटी करप्शन ब्यूरो का छापा पड़ने वाला था। इससे पहले तहसीलदार ने करप्शन के सबूत मिटाने के लिए वो कर दिया, जिसकी कोई कल्पना भी नहीं कर सकता। तहसीलदार (Tehsildar) ने घर का दरवाजा बंद कर 20 लाख रुपये किचन में चूल्हे पर जलाने की कोशिश की। एंटी करप्शन ब्यूरों ने दरवाजा तोड़कर आधे जले नोटों के साथ तहसीलदार कल्पेश कुमार जैन को गिरफ्तार कर लिया।

वहीं, जानकारी के मुताबिक, एंटी करप्शन ब्यूरो (एसीबी) को शिकायत मिली थी कि तहसीलदार (Tehsildar) अपने एक राजस्व निरीक्षक के जरिए आंवला छाल के ठेके के लिए एक लाख रुपये की रिश्वत की मांग कर रहा है। सूचना मिलने पर एसीबी ने पाली से एक टीम भेजकर एक लाख रुपये की रिश्वत लेते हुए राजस्व निरीक्षक परबत सिंह को रंगे हाथों गिरफ्तार किया।

टीम की पूछताछ में परबत सिंह ने बताया कि वह यह पैसा तहसीलदार (Tehsildar) कल्पेश कुमार जैन के लिए ले रहा है। इसके बाद गिरफ्तार किये गये राजस्व निरीक्षक परबत सिंह को लेकर एंटी करप्शन ब्यूरो के अधिकारी तहसीलदार कल्पेश कुमार जैन के घर पहुंचे, जिसकी जानकारी तहसीलदार को मिल गई।

Tehsildar
कॉन्सेप्ट फोटो

एंटी करप्शन ब्यूरो की टीम के घर आने से पहले ही तहसीलदार (Tehsildar) ने घर पर दरवाजा बंद कर लिया और नोटों को किचन में चूल्हे पर चढ़ा दिये। नोटों में आग लगने से निकलने वाले धुएं को देखकर एसीबी ने दरवाजा तोड़ दिया और घर के अंदर घुसे।

घर में घुसने पर एसीबी ने देखा कि करीब 20 लाख रुपये आधे से ज्यादा जल चुके ते, इसके बावजूद भी एंटी करप्शन ब्यूरो ने एक लाख 60 हजार रुपये के सही सलामत नोट बरामद कर लिये। टीम द्वारा बाकी संपत्तियों की जांच और पूछताछ जारी है।

Related Articles

Back to top button