जानें, नीरव मोदी को भारत लाने के बाद कौन सी जेल में होगा उसका आशियाना

पंजाब नेशनल बैंक घोटाले के आरोपी नीरव मोदी (Neerav modi) को भारत लाने के मामले में भारतीय एजेंसियों को बड़ी सफलता मिली है. लंदन की एक स्थानीय कोर्ट ने नीरव मोदी के प्रत्यर्पण को मंजूरी दे दी है. नीरव मोदी (Neerav modi) के भारत लाने का रास्ता साफ होते ही भारत में प्रशासन ने तैयारियां शुरू कर दी है कि, उसे किस जेल की किस सेल में रखा जाएगा और वहां की सुरक्षा कैसी होगी. नीरव मोदी को भारत लाने के बाद मुंबई की आर्थर रोड जेल में रखा जाएगा. यहां पर उसके लिए विशेष सेल तैयार की गई है.

ये भी पढ़ें-अमेठी: बस ड्राइवर की लापरवाही से डबल डेकर बस अनियंत्रित हो कर पलटी

मिली जानकारी के मुताबिक, नीरव मोदी (Neerav modi) को मुंबई लाया जाएगा तो उसे बैरक नंबर 12 की बैरक के तीसरी सेल में रखा जाएगा. ये एक हाई सिक्योरिटी बैरक है.

बता दें कि, लंदन की एक अदालत ने नीरव मोदी के प्रत्यर्पण को मंजूरी दे दी है. नीरव मोदी (Neerav modi) को भारत लाने की प्रक्रिया 28 दिनों में पूरी की जाएगी. लंदन की अदालत ने प्रत्यर्पण करने की मंजूरी की एक कॉपी यूके होम को भेज दी है. जिसपर सचिव के हस्ताक्षर होंगे.

लेकिन अभी भी नीरव मोदी (Neerav modi) के पास तीन विकल्प हैं जिनके जरिए वो इस फैसले को चुनौती देकर भारत आने से बच सकता है. नीरव मोदी लंदन की स्थानीय कोर्ट के फैसले को हाई कोर्ट में चुनौती दे सकता है. अगर वहां भी नीरव मोदी हार जाता है तो उसके बाद दूसरे ऑप्शन के तौर पर उसके पास सुप्रीम कोर्ट जाने का रास्ता खुला है. अगर नीरव (Neerav modi) को वहां पर भी राहत नहीं मिलती है तो वो ऐसे में मानवाधिकारों का इस्तेमाल कर सकता है.

अगर नीरव मोदी (Neerav modi) इन तीनों विकल्पों का इस्तेमाल करता है तो उसमें करीब एक से दो साल का समय लग सकता है. लेकिन इन सब विकल्पों का सहारा नहीं लेता है तो भारतीय एजेंसियां उसे 28 दिनों के भीतर भारत ला सकेंगी.

Related Articles

Back to top button