जानिए चैत्र नवरात्रि के पहले दिन कलश स्थापना का शुभ मुहूर्त

इस बार चैत्र नवरात्रि (Navratri )13 अप्रैल से शुरू हो रही है। हिंदू धर्म में नवरात्रि के त्योहार का विशेष महत्व है। नवरात्रि के दिन बेहद शुभ माने जाते हैं। नवरात्र‍ि के दौरान मां दुर्गा के नौ रूपों की पूरे विधि विधान से पूजा की जाती और व्रत भी रखा जाता हैं। नवरात्रि में मां दुर्गा के 9 स्वरूपों की पूजा की जाती है।

ये भी पढ़ें-एयर फोर्स में ग्रुप सी के 1515 पदों पर भर्ती

इस साल चैत्र नवरात्र 13 अप्रैल से शुरू हो रहे हैं और 21 अप्रैल को इसका समापन होगा। वहीं इस दौरान हमें काफी सावधानी भी बरतनी भी चाहिए। नवरात्रि (Navratri) में मां दुर्गा के 9 स्वरूपों की पूजा की जाती है। आइए जानते है कलश स्थापना का शुभ मुहूर्त।

शुभ मुहूर्त
कलश स्थापना के शुभ मुहूर्त
सामान्य मुहूर्त
सुबह 05:43 बजे से 08:43 बजे तक

अभिजीत मुहूर्त
दोपहर 11:36 बजे से 12:24 बजे तक

गुली व अमृत मुहूर्त
दोपहर 11:50 बजे से 01:25 बजे तक

ऐसे करें कलश स्थापना
इस दिन सुबह जल्दी उठ कर स्नान करने के बाद साफ कपड़े पहन लें इसके बाद मंदिर को अच्छे से साफ करें। मंदिर को साफ करने के बाद एक लकड़ी का पटरा लें फिर उसपर लाल या सफेद रंग का कपड़ा बिछाएं। उस कपड़े पर चावल रखकर मिट्टी के बर्तन में जौ बो दें फिर इसी बर्तन के ऊपर जल का कलश रखें। कलश में स्वास्तिक जरूर बनाएं स्वास्तिक बनाने के बाद कलावा बांध दें। कलश को सुपाड़ी, सिक्का और अक्षत से भर दें। ये सब करने के बाद कलश पर अशोक के पत्ते रखें। साथ ही एक नारियल को चुनरी से लपेट कर कलावा बांध दें। ये सब पूरा होने के बाद मां दुर्गा का आव्हान करें और दीप जलाकर कलश की पूजा करें।

Related Articles

Back to top button