PSLV-C51 launch: ISRO ने लॉन्च किया नए साल का पहला मिशन, अंतरिक्ष में भेजे 19 सेटेलाइट

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने साल 2021 के अपने पहले मिशन में कामयाबी हासिल की है। इसरो ने रविवार की सुबह...

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) ने साल 2021 के अपने पहले मिशन में कामयाबी हासिल की है। इसरो ने रविवार की सुबह 10:24 बजे आंध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा के सतीश धवन स्पेस सेंटर से पीएसएलवी-सी51 को लॉन्च किया गया है। पीएसएलवी-सी51 अमेजोनिया-1 और दूसरे 18 सैटेलाइट को लेकर स्पेस में गया है।

बता दें कि अमेजोनिया-1 ब्राजील का पहला सैटेलाइट है, जो कि भारत में प्रक्षेपित किया गया। खास बात ये है कि स्पेस किड्ज इंडिया ने एक एसडी कार्ड में भगवद गीता की इलेक्टॉनिक कॉपी को भी स्पेस में भेजा है। साथ ही सैटेलाइट पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तस्वीर भी लगाई गई है।

ये भी पढ़ें –चल रही दारू पार्टी के दौरान दोस्त ने दोस्त के ऊपर धारदार हथियार से किया हमला

इसरो (ISRO) की ओर से जारी किये गये एक बयान के मुताबिक, पीएसएलवी-सी51 (PSLV-C51) पीएसएलवी का 53वां मिशन है। इस रॉकेट के जरिए 19 सैटेलाइट अंतरिक्ष मे रवाना हुए हैं, जिनमें ब्राजील के अमेजोनिया-1 उपग्रह के साथ 18 अन्य उपग्रह शामिल हैं।

इसरो (ISRO) के मुताबिक, चेन्नई से करीब 100 किलोमीटर दूर श्रीहरिकोटा से इस रॉकेट को प्रक्षेपित किया गया है। आज यानी 28 फरवरी की सुबह 10 बजकर 24 मिनट पर पीएसएलवी-सी51 को लॉन्च किया गया। शनिवार सुबह 8 बजकर 54 मिनट पर इसकी उल्टी गिनती शुरू हो गई थी। अमेजोनिया-1 को सफलतापूर्व उसकी कक्षा में प्रेक्षिपत कर दिया गया है।

इसरो (ISRO) के मुताबिक, अमेजोनिया-1 अमेजन क्षेत्र में वनों की कटाई की निगरानी और ब्राजील के लिए विविध कृषि के विश्लेषण के लिए उपयोगकर्ताओं को दूरस्थ संवेदी आंकड़े मुहैया कराएगा। साथ ही मौजूदा ढांचे को और मजबूत बनाएगा।

पीएसएलवी-सी51 की लॉन्चिंग के बाद इसरो (ISRO) चीफ के सिवन के कहा कि ‘मुझे ये बताते हुए बहुत खुशी हो रही है कि पीएसएलवी-सी51 आज अमेजोनिया-1 के ऑर्बिट में सफलतापूर्वक लॉन्च हुआ है। ब्राजील द्वारा डिजाइन और इंटीग्रेटेड इस पहले सैटेलाइट को लॉन्च करके भारत और इसरो बहुत गर्व और खुशी अनुभव कर रहा है।’

 

Related Articles

Back to top button