आज़मगढ़ : 12 साल की दिव्यांग जिया ने समंदर में तैराकी का बनाया विश्व रिकॉर्ड…

होनहार बिरवान के होत चिकने पात जी हां ये कहावत बिल्कुल सटीक बैठ रही है, आज़मगढ़ (Azamgarh) की बेटी जिया राय पर। 12 वर्षीय दिव्यांग जिया ने अरब सागर को ही नाप लिया 36 KM की दूरी को 8 घंटे 36 मिनट में पूरा कर एक नया विश्व कीर्तिमान स्थापित कर अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाया है ।

ये भी पढ़ें- महोबा : दीवार गिरने से तीन कामगारों की मौत

दिव्यांग जिया जो स्पेक्ट्रम डिसऑर्डर से ग्रसित है पैदा होते ही कुछ अलग दिखने लगी और उसको उसके पिता जो मुम्बई में नेवी में नियुक्त है का जिया के आगे बढ़ने में भरपूर सहयोग मिला। ऐसा पहली बार नहीं है कि जिया ने ऐसा कीर्तिमान स्थापित किया हो पिछले वर्ष जब जिया मात्र 11 वर्ष की थी उस समय इसने 14 KM की दूरी 3 घंटे 27 मिनट में पूरी कर विश्व कीर्तिमान स्थापित कर चुकी है। जिया ने एक नया स्लोगन दे दिया है पढ़े बेटियां बढे बेटियां और कीर्तिमान स्थापित करे बेटियां जिया के इस कीर्तिमान से पूरा परिवार, पूरा गांव खुश है और ये मानने लगा है कि लड़कियों को हर क्षेत्र में अपना परचम लहराना चाहिए।

जनपद आजमगढ़ (Azamgarh) के सगड़ी तहसील स्थित कटाई अलीमुद्दीनपुर के मूल निवासी मदन राय अपनी पत्नी और बेटी जिया राय के साथ दक्षिण मुंबई के कोलाबा में रहते हैं। इतनी छोटी सी उम्र में तैराकी कर एक नई मिशाल पेश की है। जिया ने अभी 2 दिन पूर्व वरली सी लिंक से गेटवे ऑफ इंडिया तक की तैराकी सुबह 3:50 बजे शुरू कर 12:30 बजे समाप्त की। यह प्रतियोगिता महाराष्ट्र तैराकी संघ द्वारा आयोजित की गई थी। इससे पूर्व जिया 15 फरवरी को 2020 में एलिफैंटा द्वीप से गेटवे ऑफ इंडिया के बीच 14 किमी की दूरी मात्र 3 घंटे 27 मिनट में तय कर विश्व रिकॉर्ड बना चुकी है। जिया समुद्र में 14 किमी की दूरी तय करने वाली सबसे कम उम्र की सबसे तेज तैराक मानी जाती हैं। वहीं, गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में जिया राय का नाम दर्ज है। जिया राय के पिता नौसेना में अफसर हैं जबकि मां केंद्रीय स्कूल में अध्यापक है।

रिपोर्ट:- अमन गुप्ता

Related Articles

Back to top button