लूटपाट, अपहरण और हत्या जैसी घटनाओं पर रोक नहीं लगा पा रही है सुल्तानपुर पुलिस ,कानून व्यवस्था पूरी तरह ध्वस्त!

सुल्तानपुर : जनपद में लूटपाट, अपहरण और हत्या जैसी घटनाओं पर रोक नहीं लग पा रही है। कानून व्यवस्था बेपटरी पर हो गयी हैं हाल के दिनों में हत्या की वारदातों में तेज़ी आई है। अभी कुछ दिनों पहले सरेशाम कोतवाली नगर क्षेत्र में प्रॉपर्टी डीलर की गोली मारकर हत्या कर दी गयी,कोतवाली देहात में चंद दिनों पहले बुजुर्ग की लाश बोरे में मिली। ऐसी अनेकों घटनाएं घट रही हैं और लागातर पुलिस के इकबाल पर सवाल खड़े हो रहे हैं की पुलिस आखिर कर क्या रही हैं और अपराधी पुलिस प्रशासन को चुनौती दे रहे है।

इसे भी पढ़े-यूपी : सपा के 13 विधायक और MLC चुनाव में वोट मिले सिर्फ 356 जाने क्यों?

बताते चले की शुक्रवार की सुबह कुछ लुटेरे एक होटल के मालिक से रुपये छीनने लगे। विरोध करने पर लुटेरों ने होटल के मालिक को गोली मार दी। गम्भीर रूप से घायल होने के कारण उन्हें लखनऊ रेफर कर दिया गया। पुलिस लुटेरों की तलाश में जुटी है, लेकिन उनका अभी पता नहीं चल सका है।

तो वही बस स्टेशन और पुलिस अधीक्षक आवास के बीचों बीच घटी इस घटना का स्थान बस स्टेशन स्थित होटल अन्नपूर्णा के मालिक की है जहाँ उनको गोली मारी गई, और वहाँ से चंद क़दमों की दूरी पर ही पुलिस अधीक्षक आवास है,कोतवाली नगर भी महज़ कुछ ही दूरी पर है लेकिन बदमाशों के हौसले इतने बुलंद हैं कि इन सब की परवाह न करते हुए दिन दहाड़े ऐसी घटना को अंजाम दे दिया गया बहरहाल पुलिस इन सब की तलाश में जुट गई है ।लेकिन खबर लिखे जाने तक कोई धरपकड़ नही हो सकी थी। एसपी ने पुलिस टीम का गठन कर जल्द ही खुलासे की बात कही हैं

तो वही पुलिस अधीक्षक विपिन कुमार मिश्र ने बताया कि नगर के करौंदिया, विवेक नगर निवासी अमित कुमार का अन्नपूर्णा भोजनालय के नाम से बस स्टेशन पर होटल है। रात में वे वहीं सो गए थे। सुबह होटल बंद कर घर जा रहे थे। की इसी के दौरान करीब छह बजे कुड़वार नाका ओवर ब्रिज पर मोटर साइकिल सवार दो अज्ञात लुटेरों ने उन्हें रोक लिया। उनके पास झोले में रखे 15 हजार रुपये छीनने की कोशिश की। अमित ने विरोध किया तो लुटेरों ने गोली मार दी। सीने में गोली लगने से वह घायल हो गए। इसके बाद लुटेरे रुपये छीनकर भाग निकले। घायल को इलाज के लिए होटल मालिक अमित को गोली लगने के बाद जिला अस्पताल लाया गया जहां उसकी गंभीर हालत को देखकर डॉक्टरों ने लखनऊ के लिए रेफर कर दिया है,बहरहाल इस घटना से जिले के व्यापारी वर्ग में खासा रोष व्याप्त है। इस दुस्साहसिक वारदात से लोगों में डर का माहौल बना हुआ है तो वही अब सुल्तानपुर पुलिस पर सवाल खड़े होने लगे हैं की आखिर सुल्तानपुर पुलिस कर क्या रही है!

रिपोर्ट – संतोष पाण्डेय सुल्तानपुर

Related Articles

Back to top button